बुद्ध की महाकरुणा : प्रकृति की अश्रु भरी आँखे

क्या आप अपनी इस प्यारी दुनिया को जानते हैं? जानते हैं कि यह आज कैसी है? पहले कैसी थी? हमसे पहले इस …